भारत के साथ संबंधों को आगे बनाने का अहम अवसरः अमेरिका

वॉशिंगटनः भारत को ‘सुख-दुख का साथी’ बताते हुये अमेरिका ने कहा कि उसके साथ होने वाली मंत्री स्तरीय बातचीत राजनयिक एवं सुरक्षा मुद्दों पर संबंधों को बढ़ाने का एक महत्वपूर्ण अवसर है। इसमें प्रमुख रक्षा भागीदार के रूप में भारत की स्थिति का कैसे उपयोग किया जाये, इस पर चर्चा होगी।

18 अरब डालर का हुआ रक्षा सहयोग

अमेरिका ने भारत को 2016 में प्रमुख रक्षा भागीदार का दर्जा दिया था। भारत और अमेरिका के बीच रक्षा सहयोग 2008 में शून्य डॉलर से बढ़कर आज 18 अरब डॉलर हो गया है। अमेरिका भारत के साथ सैन्य अभ्यास को और आगे बढ़ाना चाहता है। अगले महीने मंत्री स्तरीय बातचीत (टू प्लस टू वार्ता) के लिये अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री जेम्स मेट्टिस भारत आयेंगे। प्रधान उप सहायक सचिव एलिस वेल्स ने कहा, ‘भारत के साथ 6 सितंबर को विदेश मंत्री पोम्पियो और मेट्टिस के साथ आयोजित मंत्री स्तरीय वार्ता के उद्घाटन के हम और आगे जाने की उम्मीद कर रहे हैं।’

जून 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिकी यात्रा के दौरान दोनों देश वार्ता के लिये राजी हुये थे। इससे पहले, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण जुलाई में अपने अमेरिकी समकक्षों के साथ बैठक करने के लिये वॉशिंगटन गयी थी। लेकिन अमेरिका ने बैठक को स्थगित कर दिया था।

उन्होंने कहा कि भारत अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति में केंद्रीय भूमिका निभा रहा है। इसके साथ ही भारत अमेरिकी राष्ट्रपति की राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति के साथ ट्रंप प्रशासन की दक्षिण एशिया और भारत-प्रशांत रणनीतियों में भी शामिल है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

स्थानीय निकायों को अधिकार से कम होगीं घरों की कीमतें

नयी दिल्लीः स्थानीय निकायों को 20 से 50 हजार वर्ग मीटर की परियोजनाओं से जुड़े हरित नियमों के अनुपालन का अधिकार दिए जाने के सरकार के फैसले से इनकी मंजूरी की प्रक्रिया तेज होगी। इससे घरों के दाम भी घटेंगे। [Read more...]

शिकायतें निपटाने के आधार पर तय हो विमान कंपनियों की रैकिंग

नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा नयी दिल्लीः विमान सेवा कंपनियों की सेवा गुणवत्ता का आंकलन शिकायत निपटान में [Read more...]

मुख्य समाचार

सुषमा का ऐलान : नहीं लड़ेगीं 2019 का चुनाव

नई दिल्ली : मध्यप्रदेश के इंदौर में संवाददाता सम्मेलन के दौरान विदिशा लोकसभा क्षेत्र से भाजपा सांसद और भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि - वह वर्ष 2019 में होने वाला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी। सुषमा ने [Read more...]

स्थानीय निकायों को अधिकार से कम होगीं घरों की कीमतें

नयी दिल्लीः स्थानीय निकायों को 20 से 50 हजार वर्ग मीटर की परियोजनाओं से जुड़े हरित नियमों के अनुपालन का अधिकार दिए जाने के सरकार के फैसले से इनकी मंजूरी की प्रक्रिया तेज होगी। इससे घरों के दाम भी घटेंगे। [Read more...]

ऊपर